Saturday, June 13, 2020

दिल्ली के अस्पतालों का डरावना सच : 5 दिनों से कोरोना टेस्ट के लिए भटक रही है यह एक्ट्रेस


टीवी  सीरियल 'कसौटी ज़िन्दगी की' एक्ट्रेस चारवी सराफ उर्फ शिवानी शर्मा ने दिल्ली में कोरोना वायरस टेस्ट करवाने को लेकर अपने परेशानी को सोशल मीडिया पर शेयर किया हैं। चारवी ने खुलासा किया कि उन्हें COVID-19 के लक्षण हैं लेकिन उनका टेस्ट करने के लिए भी दिल्ली की कोई लैब तैयार नहीं है। चारवी सराफ एरिका फर्नांडीस की बहन शिवानी की भूमिका 'कसौटी जिंदगी की 2' में निभाती हैंl

वर्तमान में दिल्ली में रहने वाली चारवी को कोरोना वायरस का खुद का टेस्ट करवाना मुश्किल हो रहा हैl वह कहती है कि उन्हें COVID के लक्षण हैं, और उन्होंने इसके टेस्ट के लिए कई हॉस्पिटल्स में सम्पर्क किया लेकिन कोई भी लैब उनका COVID का टेस्ट करने को तैयार नहीं है। चारवी ने अपने अनुभव से जुड़ा एक खुला पत्र लिखा है जिसमे  दिल्ली में COVID के टेस्ट का अनुभव उन्होंने  सोशल  मीडिया  पर शेयर किया है।



पत्र में चारवी सराफ लिखती हैं, 'मुझे Covid 19 के लक्षण हैं, लेकिन दिल्ली में टेस्ट करना भी कितना मुश्किल है? दिल्ली  के   अस्पताल  में  मरीजों को कोई  जगह नहीं  दी जा रही। जब से लॉकडाउन की घोषणा की गई है, मैं दिल्ली में मेरे घर पर हु। हम होमबाउंड हैं। हम केवल जरूरत की चीजें खरीदने के लिए ही बाहर निकलते थे। सब कुछ काफी ठीक लग रहा था और स्वस्थ था। हमने नई जीवन शैली को अपना लिया था।' वह आगे अपने लक्षणों को बताते हुए कहती है, 'पिछले हफ्ते से मुझे बेचैनी होने लगी, मेरे शरीर का तापमान गिरता रहा और गिरता रहा। जल्द ही मुझे तेज बुखार होने लगा, शरीर में बहुत अधिक दर्द, सांस फूलना, गले में दर्द, सिरदर्द आदि रहने लगा। मैं उस डर से घबराने लगी कि मैं COVID से पीड़ित हूंl इसके अलावा, मैं अपने परिवार के लिए भी डर गई थींl मैं नहीं चाहती थीं कि उन्हें कुछ भी हो, इसलिए मैंने खुद को क्वारनटाइन करने का फैसला किया।' चारवी ने यह भी लिखा है कि वह खुद का टेस्ट करवाने के लिए बहुत कोशिश करती रही लेकिन सब बेकार  है

वह कहती है, 'मन में पहली बात यह थी कि एक COVID-19 का टेस्ट किया जाना चाहिए, लेकिन क्या मुझे पता है कि परीक्षण करवाना भी मुश्किल है। दिल्ली में सालों से हमारा इलाज कर रहे डॉक्टरों ने कहा कि उनके पास COVID टेस्ट किट नहीं हैं। आगे मैंने कुछ निजी अस्पतालों को फोन किया उन्होंने टेस्ट करने से मना कर दिया। मैं चाहती थी कि कोई ऐसा हो जो मेरे टेस्ट के लिए आगे आए और मैं अपनी जांच करवाऊं क्योंकि मैं टेस्ट कराने के लिए अस्पताल जाने की स्थिति में नहीं थीं। तब मैंने कुछ सरकारी अस्पतालों में कुछ कॉल किए। उन्होंने मुझे अपने डॉक्टर से परामर्श करने के लिए कहा कि यह वायरल हो सकता है। मैंने यहां तक कि COVID-19 हेल्पलाइन से भी संपर्क कियाl उन्होंने कहा कि वे अगले सप्ताह तक पहले से ही बुक हैं। इस समय तक मैं हताश हो चुकी थीं। वह भी केवल एक टेस्ट के लिए।'

No comments:

Post a Comment

Popular Posts

Newsletter