Wednesday, July 15, 2020

अगर हम कोरोना से अकेले लड़ते तो फेल हो जाते : अरविन्द केजरीवाल


दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल ने बुधवार को कोरोना की रिपोर्ट के बारे में बताया की हम आज के दिन कोरोना को काफी हद तक हरा चुके है उन्होंने बताया की दिल्ली में आज के दिन के लिए जितना अनुमान लगाया गया था  दिल्ली में आज अनुमान से भी आधे केस है क्योकि हम सबने मिलकर इस लड़ाई का सामना किया है अगर अकेली दिल्ली सरकार इस बीमारी से लड़ने का फैसला लेती तो हम हार जाते क्योकि हम सब ने डॉक्टर, नर्से, सफाई कर्मचारी सभी ने मिलकर साथ दिया है। एनजीओ और धार्मिक संस्थाएं भी हमारे साथ मिलकर इसमें काम कर रही है। मैं भाजपा और कांग्रेस समेत सभी पार्टियों का शुक्रिया अदा करता हूं।

केजरीवाल ने कहा कि 1 जून के आसपास हमने केंद्र सरकार के फॉर्मूले के हिसाब से अनुमान लगाया था कि दिल्ली में 15 जुलाई तक 2.25 लाख केस और 1.35 लाख केस एक्टिव केस होने थे, लेकिन आज सभी की मेहनत से आधे केस हैं और एक्टिव केस सिर्फ 18,600 हैं। हमे अनुमान था कि 35,000 बेड की आवश्यकता पड़ेगी, लेकिन आज सिर्फ 4,000 बेड की जरूरत है। हमने 15,500 बेड का इंतजाम किया हुआ है। अभी तक स्थिति नियंत्रण में नजर आ रही है और आगे के लिए भी हमारी तैयारी पूरी है।

दिल्ली में मौत के आंकड़े अब कम हो रहे हैं। कुछ दिन ऐसे थे जब 100-100 लोग मर रहे थे। मगर अब ऐसा नहीं है। अब 30-35 लोग मर रहे हैं। मौतों में कमी लाने के लिए दिल्ली सरकार ने इसकी पूरी प्लानिंग बनाकर काम किया और अंतत: मौत कम कर दीं। पहले मरीजों को एम्बुलेंस नहीं मिल पा रही थीं। एम्बुलेंस का इंतजाम कर लिया गया है अब सभी को एम्बुलेंस मिल रही हैं। पहले 2 घंटे में एम्बुलेंस पहुंचती थी। अब 30 मिनट में पहुंच जाती है। एम्बुलेंस से भर्ती कराने में दिक्कत आती थी। उसे भी खत्म कर दिया।

हम सब ये सोचते है कि सब ठीक हो गया है अगर हमने जरा -सी भी ढील बरती तो हम फिर से हारने को मजबूर हो जायेंगे सके लिए मास्क पहनना होगा। सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना होगा। हाथ धोते रहना होगा। अभी कोरोना नियंत्रित है तो सिर्फ इसलिए की हम सावधानी बरत रहे हैं। आगे भी हमें यह प्रयास जारी रखने हैं।

No comments:

Post a Comment

Popular Posts

Newsletter