Wednesday, July 15, 2020

इन्हे बनाये दैनिक दिनचर्या का हिस्सा - छू भी नहीं पाएगा कोरोना


कोरोना के लक्षण सामान्य मौसमी बीमारी से मिलते झूलते हैं। ऐसे में आम आदमी बड़ी संख्या में खुद को कोरोना संकर्मित  समझकर अस्पताल पहुंच रहे हैं। इस सब के बीच मरीजों में कोरोना संक्रमण का खतरा भी बढ़ रहा है। केजीएमयू के डॉक्टर की पहल आपकी मुश्किलों को कम कर सकती है। डॉक्टर ने कोरोना किट बनाई है और उसे सोशल मीडिया में साझा किया गया है।

डॉक्टर अब टेलीमेडिसिन से सलाह दे रहे हैं। मरीजों को दवाओं के लिए भटकना पड़ रहा है। कोविड मेडिकल किट घर पर ही रख सकते हैं। डॉक्टर की सलाह पर वयस्कों को दी जा सकती है। बच्चों को बिना डॉक्टर को दिखाए दवाएं न दें।

गुनगुने पानी में नीबू मिलाकर पिएं

गर्म पानी में नींबू का रस मिलाकर पिएं। यह पेय पदार्थ वायरस को फेफड़ों तक पहुंचने से पहले खत्म कर देता है। सुबह और शाम को नींबू पानी का सेवन फायदमेंद है।

कब अस्पताल पहुंचे

केजीएमयू के डॉक्टर वेद प्रकाश के मुताबिक उच्च जोखिम वालों को घर में अलग स्थान पर रखें।  ब्लड प्रेशर, डायबिटीज, दिल, सांस संबंधी मरीज व अंग प्रत्यारोपण कराने वाले मरीज सावधानी बरतें। दो साल से कम उम्र के बच्चे, गर्भवती महिलाएं भी सावधानी बरतें।


दवा - टैबलेट पैरासिटॉमाल


  • विटामिन सी, विटामिन ई, विटामिन बी, विटामिन डी दवा का सेवन डॉक्टर की सलाह पर लें
  • रोज धूप में 15-20 मिनट बैठे
  • पौष्टिक गर्म भोजन ही लें
  • रोज सात से आठ घंटे नींद लें
  • दो से तीन लीटर पानी पिएं
  • 30 मिनट पैदल चलें, कसरत रोज करें
  • दिन में दो बार गर्म पानी से भाप लें
  • थर्मामीटर व पल्स ऑक्सीमीटर रखें
  • श्वास अभ्यास व रोजाना एक घंटे नियमित व्यायाम करें
  • मास्क पहनकर ही बाहर निकलें।


कोरोना संक्रमण तीन चरणों में होता है


  • पहली स्टेज के मरीज में लक्षण नजर नहीं आते हैं
  • दूसरी स्टेज के मरीज में गले में खराश व बुखार होता है। मरीज पानी में नमक मिलाकर गरारा करें। पैरासिटामॉल लें। डॉक्टर की सलाह पर एंटीबायोटिक दवा लें।
  • तीसरी स्टेज के मरीज को खांसी, सांस लेने में तकलीफ होती है। ऐसे मरीज गर्म पानी व गर्म पेय पदार्थ का सेवन करें।


लक्षण


  • गले में खराश या खुजली 
  • सूखी खांसी
  • बुखार
  • सूखा गला
  • सांस फूंलना।


No comments:

Post a Comment

Popular Posts

Newsletter