Thursday, July 9, 2020

Corona : सुबह माँ समझ किया अंतिम संस्कार - शाम को अस्पताल से आया फ़ोन "अपनी माँ का शव ले जाइये"


एक तो कोरोना महामारी के चलते संक्रमित अस्पतालों में जगह न मिलने से ही बहुत परेशान है ऊपर से अस्पताल प्रसाशन की लापरवाही के चलते उनके साथ बेहद घटिया मजाक हो रहा है। ऐसा ही एक मामला आया है उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद से, जिसमें कथित तौर पर अंतिम संस्कार के लिए किसी और कोरोना वायरस मृतक का शव परिजनों को सौप दिया गया। परिजनों ने उसका अंतिम संस्कार करने के बाद फिर अस्पताल वालो ने बताया की आपके परिजन का शव तो अभी अस्पताल में ही है। न्यूज एजेंसी एएनआई द्वारा दी गई जानकारी के मुताबिक इनमें से एक मृतक की बेटी ने इस मामले को मीडिया के सामने उजागर किया है।

उसने बताया कि दिल्ली के एम्स अस्पताल में मेरी मां भर्ती थीं और वह 5 जुलाई को गुजर गईं। अगली सुबह ही अंतिम संस्कार हो गया था। उस दिन शाम को हमें स्टॉफ मेंबर की तरफ से कॉल आया कि मेरे मां का शव अभी भी शवगृह में रखा हुआ है।

मृतक की बेटी के अनुसार "जो शव पहले हमें दिया गया था वह किसी मुस्लिम महिला का था. बेटी ने जानकारी दी कि बुधवार को उन्होंने अपने मां का अंतिम संस्कार किया।"

No comments:

Post a Comment

Popular Posts

Newsletter