Thursday, July 2, 2020

कुख्यात बदमाश को पकड़ने गई पुलिस टीम पर हमला - DSP समेत 8 पुलिसकर्मी शहीद

कुख्यात हिस्ट्रीशीटर विकास दुबे के घर गुरुवार रात दबिश देने गई पुलिस पर हमला हो गया। बदमाशों ने पुलिस पर ताबड़तोड़ गोलिया बरसाई। एडीजी ने इस वारदात में 8 पुलिसकर्मियों की मौत और चार के गंभीर रूप से घायल होने की पुष्टि की है। घायल पुलिसकर्मियों को सर्वोदय नगर स्थित रीजेंसी अस्पताल में लाया गया। घटना की सूचना मिलते ही महकमे में हड़कंप मच गया। एसएसपी, तीन एसपी और एक दर्जन से अधिक थानों की फोर्स मौके पर पहुंच गयी। बदमाश की धरकड़ के लिए पूरे शहर में नाकेबंदी कर दी गई है।

गोली लगने से घायल बिठूर एसओ कौशलेंद्र प्रताप सिंह ने बताया कि देर रात को चौबेपुर थानाक्षेत्र के बिकरू गांव निवासी कुख्यात बदमाश विकास दुबे के घर पर पुलिस टीम दबिश देने गई थी। पुलिस ने छापेमारी में विकास के घर को चारों तरफ से घेर लिया। पुलिस ने दरवाजा तोड़कर बदमाशों को पकड़ने का प्रयास कर ही रही थी कि विकास के साथ मौके पर मौजूद आठ-दस बदमाशों ने ताबड़तोड़ फायरिंग शुरू कर दी।

पुलिसकर्मी जब तक कुछ समझ पाते गोली मेरी जांघ और हाथ पर लग गई। इसके अलावा दरोगा सुधाकर पांडेय, सिपाही अजय सेंगर, अजय कश्यप, चौबेपुर थाने का सिपाही शिवमूरत और होमगार्ड जयराम पटेल घायल हो गए। इसके बाद बदमाश पुलिस के कई हथियार भी लूट कर मौके से भाग निकले। डीएसपी बिल्हौर देवेंद्र मिश्रा, थाना प्रभारी शिवराजपुर, एक सब इंस्पेक्टर सहित 5 सिपाही भी शहीद हुए।


मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने एसटीएफ की टीम को कार्रवाई के निर्देश दिए हैं। पुलिस ने यूपी के सभी बॉर्डर सील कर दिए हैं।

कौन है विकास दुबे

विकास दुबे उत्तरप्रदेश का कुख्यात बदमाश है। उसने 2001 में थाने में घुसकर भाजपा नेता और राज्यमंत्री संतोष शुक्ला की हत्या की थी। वह थाने में घुसकर पुलिसकर्मी समेत कई लोगों की हत्या कर चुका है। विकास पर करीब 53 हत्या व हत्या के प्रयास के मुकदमे चल रहे हैं।। वह प्रधान और जिला पंचायत सदस्य भी रह चुका है। 

No comments:

Post a Comment

Popular Posts

Newsletter