Saturday, July 4, 2020

IIT Delhi Study : चाय-हरड़ से हो सकता है कोरोना का उपचार - केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री ने भी की तारीफ़

कोराना वायरस पर काबू पाने के लिए दुनियाभर के देशों में शोध चल रही हैं। इसकी वैक्सीन और दवा तैयार करने को लेकर पिछले कुछ दिनों में कई संस्थानों ने दावा भी किया है। आयुर्वेद के जरिए भी कोरोना को मात देने के विकल्प तलाशे जा रहे हैं। आयुष मंत्रालय की ओर से कई तरह की औषधि को लेकर शोध कराए जा रहे हैं। इस बीच IIT Delhi के शोध अध्ययन में सामने आया है कि चाय और हरड़ भी कोरोना से लड़ने में मदद करती है। शोधकर्ताओं के मुताबिक कोरोना काल में लोगों को इसका नियमित सेवन करना चाहिए। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने भी इस शोध की तारीफ़ की है।

आईआईटी दिल्ली ने नये शोध में यह खुलासा किया है कि चाय और हरड़ के नाम से जानी जाने वाली हरीतकी को कोरोना वायरस संक्रमण के उपचार के लिए विकल्प के तौर पर लिया जा सकता है। उपचार पद्धति में औषधीय गुणों वाले पौधे महत्वूपर्ण भूमिका निभाते हैं। आयुर्वेद में कई ऐसी औषधियां उपलब्ध है।

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने ट्वीट करते हुए कहा कि "हमारे देश में ज़्यादातर लोगों के दिन की शुरुआत चाय के घूंट से होती है। लेकिन क्या आप जानते हैं कि यही चाय #Coronavirus से लड़ने में भी कारगर साबित हुई है?
@iitdelhi के एक शोध के मुताबिक चाय और हरड़ #COVID19 के मुख्य #protein की वृद्धि को रोकने में कारगर साबित हुए हैं।
@ICMRDELHI "

केंद्रीय मंत्री ने आगे लिखा कि शोधकर्ताओं ने कोरोना वायरस के मुख्य प्रोटीन के क्लोन पर 51 औषधीय पौधों के प्रभाव का अध्ययन किया और यह पाया कि चाय (Camellia sinensis) और हरड़ (Terminalia chebula) इस प्रोटीन की वृद्धि को रोकने में सक्षम हैं, जो वायरस की मारक क्षमता कम कर देते हैं।



No comments:

Post a Comment

Popular Posts

Newsletter