Monday, July 6, 2020

चीन के साथ संघर्ष में अमेरिका की सेना भारत के साथ खड़ी रहेगी: US


व्हाइट हाउस के एक शीर्ष अधिकारी ने सोमवार को कहा कि अमेरिकी सेना भारत और चीन के बीच या कहीं और भी संघर्ष के संबंध में उसके साथ ''मजबूती" से खड़ी रहेगी। अमेरिका नौसेना द्वारा दक्षिण चीन सागर में दो विमान वाहक पोत तैनात किए जाने के बाद शीर्ष अधिकारी का यह बयान आया है।

व्हाइट हाउस के चीफ ऑफ स्टाफ मार्क मेडोस ने कहा कि संदेश बिल्कुल साफ है। ऐसा नहीं हो सकता कि सर्वाधिक शक्तिशाली सेना होने के बावजूद हम दूर से खड़े होकर चीन या किसी और को सबसे शक्तिशाली या प्रभावी बल होने की कमान थामने दे। चाहे वो ये क्षेत्र हो या वो।

मीडोज ने कहा कि अमेरिका ने दक्षिण चीन सागर में अपने दो विमान वाहक पोत भेजे है। उन्होंने कहा, ''हमारा मिशन यह सुनिश्चित करना है कि दुनिया यह जाने कि हमारे पास अब भी दुनिया का उत्कृष्ट बल है।" चीन, दक्षिण चीन सागर और पूर्वी चीन सागर में क्षेत्रीय विवादों में लिप्त है। चीन लगभग समूचे दक्षिण चीन सागर पर दावा करता है। वियतनाम, फिलीपींस, मलेशिया, ब्रुनेई और ताइवान के भी क्षेत्र को लेकर उसके दावे हैं।

No comments:

Post a Comment

Popular Posts

Newsletter