Wednesday, August 12, 2020

अपनी गर्लफ्रेंड से अवैध संबंध के शक में दो युवकों ने की अपने दोस्त की हत्या


नोएडा में एक  ऐसी घटना घटित हुई जिससे दोस्ती से सभी का विश्वास उठ जायगा। एक लड़की के लिए अपने दोस्त को ही मार डाला। इससे पता चलता हे की आज की युवा पीढ़ी ऐसी है की उस विश्वास नहीं किया जा सकता है। अगर कोई माता -पिता ये सोचे की उनका बेटा या बेटी अपने दोस्तों के साथ बाहर रह रहा है तो वो इस वहम में न रहे तो अच्छा होगा क्योकि ऐसी घटना कोई पहली बार तो हो नहीं रही। आज नोएडा में जो हुआ उसके बाद तो सभी को सचेत होने चाहिए न तो किसी लड़की के चक्कर में पड़ना चाहिए। आज दो दोस्तों ने गर्लफ्रेंड के लिए अपने मित्र को मार डाला सिर्फ शक के कारण। इस हत्या को दुर्घटना साबित करने के लिए उन्होंने काफी कोशिश की, लेकिन वह कामयाब नहीं हो सके।

अपर पुलिस उपायुक्त (जोन द्वितीय) अंकुर अग्रवाल ने बताया कि थाना फेस-2 क्षेत्र के इलाबास गांव में अजीत (23) अपने दोस्त मोहित और विपिन के साथ एक ही मकान में किराये पर रहता था। उन्होंने बताया कि मोहित और विपिन की दो गर्लफ्रेंड थीं। उन्हें शक था कि उनका दोस्त अजीत भी उनसे बातचीत करता है और उसके भी उनसे नाजायज संबंध हैं।

मोहित और विपिन ने बताया कि अजीत को रास्ते से हटाने के लिए दोनों ने षड्यंत्र रचा और मंगलवार सुबह इन लोगों ने सोते समय अजीत के सिर पर भारी पत्थर से वार किया और इसके बाद दोनों ने अजीत के रिश्तेदार कपिल के घर पर जाकर उसको सूचना दी कि उसका एक्सीडेंट हो गया है और उसे अस्पताल में भर्ती कराना है।

अपर उपायुक्त ने बताया कि कपिल ने उनके साथ घटनास्थल पर जाने से इनकार कर दिया। इसके बाद दोनों कपिल के घर से लौट कर आए। इसी बीच विपिन अपना बैग लेकर वहां से भाग गया। उन्होंने बताया कि मोहित ने 112 नंबर पर फोन करके मौके पर एंबुलेंस बुलाई तथा बताया कि उसके दोस्त अजीत का एक्सीडेंट हो गया है। पुलिस अधिकारी ने बताया कि एंबुलेंस जब अजीत को लेकर जैसे ही  अस्पताल पहुंची तो वहां पर डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया।

अपर उपायुक्त ने बताया कि इस दौरान मोहित भी अस्पताल से भाग गया। शव का पोस्टमॉर्टम करने पर यह बात सामने आई कि अजीत की हत्या की गई है। उन्होंने बताया कि मृतक के परिजन कसाराम की शिकायत पर पुलिस ने हत्या का मुकदमा दर्ज किया। बुधवार सुबह पुलिस ने एक सूचना के आधार पर मोहित को गिरफ्तार कर लिया।

विपिन अभी तक फरार है। पुलिस उसकी तलाश कर रही है। अपर उपायुक्त ने बताया कि विपिन इससे पूर्व लूटपाट के मामले में गाजियाबाद से कई बार जेल जा चुका है। पुलिस ने हत्या में उपयोग किया गया पत्थर भी मौके से बरामद कर लिया है।

No comments:

Post a Comment

Popular Posts

Newsletter