Sunday, September 6, 2020

गुडगाँव - 5 साल बाद फेसबुक पर मिला पुराना प्रेमी तो पत्नी ने प्रेमी संग मिलकर की पति की हत्या

 


गुडगाँव : जींद के गांव रघाना में शराब पिलाने के बाद प्रेमिका के पति की गोली मारकर हत्या कर आरोपित ने शव को 5 फीट गहरे गड्ढे में नीचे दबा दिया था। वारदात में मृतक की पत्नी के अलावा आरोपित का एक दूसरा साथी भी मिला हुआ था।

आरोपी का कहना है कि पीड़ित अपनी पत्नी के साथ मारपीट करता था। कॉलेज के समय से उसका उसके साथ अफेयर चल रहा था और उससे उसके होते हुए अन्नाय को देखा नहीं गया और उसी के चलते उसने हत्या कर दी। 5 दिन के रिमांड पर लेकर थाना पुलिस अब उसके फरार साथी को ढूंढ रही है।

पुलिस का कहना है कि 1 सितंबर को जींद के गांव रघाना निवासी राममेहर ने सेक्टर-5 थाना में अपने बेटे की गुमशुदगी की शिकायत दी। 27 साल का सुरेश अपनी पत्नी सुनीता व बच्चे के साथ 8 महीने से शीतला माता रोड पर किराये पर रह रहा था। करीब साढ़े 4 महीने पहले सुनीता बच्चे को लेकर अपने घर चली गई थी, जिसके बाद से सुरेश गायब है। सेक्टर-5 थाने में गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज करके जांच शुरू की गई।

पुलिस की जानकारी से पता चला है  कि युवक का अपहरण करके  हत्या की गई है। पुलिस ने केस में अपहरण, साजिश के तहत, आर्म्स एक्ट व सबूत मिटाने की धारा जोड़ी। सेक्टर-5 थाना एसएचओ इंस्पेक्टर राजेंद्र की टीम ने शुक्रवार रात एक आरोपी को जींद के नरवाना से अरेस्ट किया। उसकी पहचान जींद के डूमरखां खुर्द निवासी सुखबीर के तौर पर हुई। शनिवार को आरोपित को कोर्ट में पेश कर 5 दिन के रिमांड पर लिया गया।

आरोपित ने जपने बयान में कहा है कि साल 2011-12 में नरवाना के केएम कॉलेज में पढ़ता था। तभी सुनीता नामक युवती से दोस्ती हुई थी। दोनों की दोस्ती प्यार में बदल गई। एक दिन सुनीता की सहेली ने सुखबीर को बताया कि वो किसी अन्य युवक से भी बात करती है और तनाव के चलते सुखबीर ने सुनीता से बात करना बंद कर दिया। कुछ दिनों बाद युवती की शादी का पता चला।

5 साल बाद फेसबुक पर दोनों मिले और फिर से बात होने लगी। सुनीता ने प्रेमी को बताया कि उसका पति सुरेश अपराधी है और फिलहाल हत्या के मामले में भिवानी जेल में बंद है। युवती ने बताया है कि शादी के बाद से ही पति मारपीट करता है और अब वो शादी करके पछता रही है। युवती की बातें सुनकर प्रेमी के मन में सहानुभूति जागी और पहले की तरह मिलने लगे।

इसी दौरान सुखबीर को पता चला कि युवती का पति जमानत पर बाहर आकर घर आ गया है। कुछ दिन बाद ही पति को युवती के अफेयर के बारे में पता चला गया। फिर पति ने युवती को खूब पीटा और आरोपी का नंबर लेकर गालियां दीं। फिर युवती ने सुखबीर को कहा कि पति का टैक्सी का काम शुरू करा दो। उसने मृतक को कई बार कॉल कर बात की और दोस्त बना लिया। आरोपित ने 3 लाख रुपये देकर युवती की मां के नाम स्विफ्ट डिजायर कैब फाइनेंस करा दी और मृतक गुड़गांव में कैब चलाने लगा। आरोप है कि मृतक अक्सर रुपये मांगने लगा और आरोपित जब भी रुपये देने से मना करता तो वो पत्नी को खूब पीटता। इसी कारण दोनों ने मिलकर सुरेश की हत्या का प्लान बना दिया। अपने प्रेमी का साथ पाकर उसमे हिम्मत आ  गयी थी और इस घटना को अंजाम दिया।  

लगभग  4 महीने पहले मृतक अपनी कैब लेकर आरोपी के गांव में उसके ढाबे पर गया और हाथा पाई की । तब आरोपी ने बैठकर शराब पिलाई और अपने दोस्त को भी बुला लिया। जिसके बाद नशे में युवक की गोली मारकर हत्या कर दी। शव को जमीन में दबा दिया। वारदात के बारे में युवती को बता दिया। युवती ने कहा कि सास-ससुर सुरेश के बारे में पूछते रहते हैं तो आरोपी ने सलाह दी कि उन्हें थाने जाकर शिकायत करने को बोलो। तभी मामला सेक्टर-5 थाना में पहुंचा। शुक्रवार को पुलिस ने ड्यूटी मजिस्ट्रेट की मौजूदगी में जमीन में 5 फुट गहरा गड्ढा खुदवा शव का कंकाल बाहर निकलवाया। एसीपी क्राइम प्रीतपाल सिंह ने बताया कि रिमांड के दौरान हथियार, कार व दूसरे आरोपी को पकड़ा जाना है। मामले की जांच शरू कर दी गयी है।


No comments:

Post a Comment

Popular Posts

Newsletter