Skip to main content

ट्रोल्स को सोनम कपूर का कड़ा जवाब : हां मैं अपने पापा की वजह से फिल्म इंडस्ट्री में और ये मेरे कर्म

बॉलीवुड एक्टर सुशांत सिंह राजपूत के सुसाइड ने फिल्म इंडस्ट्री की सच्चाई को सामने लाकर खड़ा कर दिया है। नेपोटिज्म पर हर कोई सामने आकर अपनी राय रख रहा है। खासकर कंगना रनौत। सुशांत के आत्महत्या करने पर कंगना ने बॉलीवुड इंडस्ट्री के कुछ लोगों पर निशाना साधा है।

कंगना की टीम ने इंस्टाग्राम अकाउंट पर एक वीडियो शेयर किया है, जिसमें वह कह रही हैं, 'सुशांत सिंह राजपूत की मौत ने सभी को झकझोर कर रख दिया है, लेकिन कुछ जो इस मामले में माहिर है कि किस तरह पैनल नैरेटिव चलाना है वे बता रहे हैं कि कुछ लोगों का दिमाग कमजोर होता है वे डिप्रेशन में आ जाते हैं और सुसाइड कर लेते हैं। वह इंजीनियरिंग के एंट्रेंस एग्जाम का रैंक होल्डर है। उसका दिमाग कमजोर कैसे हो सकता है। उनके लास्ट पोस्ट देखिए। वह लोगों से कह रहे हैं कि मेरी फिल्में देखिए। मेरा कोई गॉडफादर नहीं है, मुझे निकाल दिया जाएगा इंडस्ट्री से। अपने इंटरव्यू में वह जाहिर कर रहे हैं कि मुझे क्यों नहीं इंडस्ट्री अपनाती है। तो इस हादसे की कोई बुनियाद नहीं है। वाहियात फिल्म को सारे अवॉर्ड मिलते हैं।'


इसके बाद कई बॉलीवुड स्टार्स ट्रोलर्स के निशाने पर आ गए। नेपोटिज्म को लेकर अब तक लोग सोनम कपूर, सोनाक्षी सिन्हा, आलिया भट्ट और अनन्या पांडे समेत कई एक्ट्रेस को क्रिटिसाइज कर चुके हैं। स्टारकिड्स पर लग रहे आरोपों पर अब सोनम कपूर ने चुप्पी तोड़ी है। सोनम ने कमेंट शेयर करते हुए भाई-भतीजावाद के मुद्दे पर ट्रोलर्स को जवाब दिया है। ट्रोलर्स से परेशान होकर एक्ट्रेस ने अपने इंस्टाग्राम अकाउंट पर कमेंट सेक्शन ऑफ तक कर दिया है।


अब सोनम कपूर ने फादर्स डे के खास अवसर पर ट्वीट के जरिए ट्रोलर्स को जवाब दिया है। हाल ही में सोनम कपूर ने भी नेपोटिज्म को लेकर एक ट्वीट शेयर किया है। वह भी इस लड़ाई में कूद पड़ी हैं। सोशल मीडिया पर सोनम कपूर को लोग काफी ट्रोल कर रहे हैं। 


सोनम कपूर ने ट्विटर पर इस नफरत पर एक पोस्ट शेयर की है। साथ ही उन्होंने ट्रोलर्स पर निशाना साधते हुए लिखा है कि आज फादर्स डे के दिन मैं एक चीज कहना चाहती हूं। हां मैं अपने पिता की बेटी हूं, और हां मैं उनकी वजह से ही यहां पर हूं और मुझे इस बात पर गर्व है। इसमें मेरी कोई बेइज्जती नहीं। मेरे पिता ने बहुत मेहनत की है और हमें यहां तक पहुंचाया है। यह मेरा कर्म है जो मैं यहां हूं और उनके घर में पैदा हुई हूं। मुझे अपने पिता की बेटी होने पर गर्व है।

Today on Father’s Day id like to say one more thing, yes I’m my fathers daughter and yes I am here because of him and yes I’m privileged. That’s not an insult, my father has worked very hard to give me all of this. And it is my karma where I’m born and to whom I’m born. I’m proud

— Sonam K Ahuja (@sonamakapoor)

Comments

Popular posts from this blog

बुरी खबर - पाकिस्‍तान के स्‍टार खिलाड़ी अफरीदी की गोली मारकर हत्‍या

  खेल प्रेमियो के लिए एक बहुत ही बुरी खबर है। पाकिस्‍तान में दो पक्षों की झगडे में पाकिस्‍तान के स्‍टार खिलाड़ी कर हत्या कर दी। यह घटना पाकिस्‍तान के खैबर जिले के जमरूद में घटित हुई। पाकिस्‍तान नेशनल फुटबॉल टीम के खिलाड़ी जुनैद अफरीदी की मैदान पर फुटबॉल मैच के दौरान ही गोली मारकर हत्‍या कर दी। जानकारी के मुताबिक दो समूह के बीच भूमि विवाद के कारण गोलीबारी हुई, जिसमें जुनैद को गोली लग गई और उन्‍होंने दुनिया को अलविदा कह दिया। इस विवाद में जुनैद के अलावा भी एक व्‍यक्ति को गंभीर चोंटें भी आई है। इस घटना से फैंस में रोष हैं।

गुरुग्राम : कान में ईयरफोन लगा सैर कर रहा था युवक - ट्रेन की चपेट में आने से मौत

  धनवापुर फाटक  कि  रेलवे लाइन  के आस -पास शुक्रवार सुबह एक  हादसे में ट्रेन की चपेट में आकर एक युवक की मौत हो गई। युवक ने कान में ईयरफोन लगाए हुए गाने सुनते हुए पटरी के साथ-साथ चल  रहा था। मालगाड़ी के ड्राइवर ने काफी देर तक हॉर्न दिया, लेकिन गाने के चलते वह सुन नहीं सका और ट्रेन की चपेट में आ गया। जीआरपी थाना पुलिस ने बताया कि शुक्रवार सुबह करीब 7 बजे यह हादसा हुआ। लक्ष्मण विहार कॉलोनी निवासी 21 साल का अवनीश धनवापुर फाटक के पास सैर करने गया। वह ट्रेन की पटियों के साथ-साथ सैर कर रहा था। कान में ईयरफोन लगाकर वह तेज आवाज में गाने भी सुन रहा था। तभी दिल्ली की ओर से मालगाड़ी आई। लोको पायलट ने युवक को देखकर हॉर्न भी बजाया लेकिन ईयरफोन व गाने की तेज आवाज के चलते युवक सुन नहीं सका और मालगाड़ी की चपेट में आ गया। इस हादसे की सारी सूचना कंट्रोल रूम  में दी गई तो जीआरपी थाना पुलिस मौके पर पहुंची। मृतक छात्र के परिजन  व पिता शैलेंद्र भी यहां आए। पिता ने शक जताया कि किसी ने बेटे को ट्रेन की ओर धक्का दिया। जीआरपी थाना पुलिस ने मेडिकल बोर्ड से मृतक के शव का पोस्टमार्टम कराया। जिसमें युवक को धक्का देन

शादी का झांसा देकर दिल्ली की छात्रा से गुड़गांव के होटल में दुष्कर्म

  दिल्ली की 18 साल की छात्रा से गुड़गांव के होटल में दुष्कर्म का नया  मामला सामने आया है। छात्रा का कहना है की  आरोपित ने उसे शादी का झूठा झांसा देकर चुप करा दिया और लगभग 2 साल तक उसके साथ दुष्कर्म करता रहा। और अब उससे शादी करने  से मना कर रहा   है। डीएलएफ सेक्टर-29 थाना एसएचओ इंस्पेक्टर जगबीर ने बताया कि युवती ने एफआईआर दर्ज करवाई । पुलिस के कहना है कि , शिकायत देने वाली छात्रा पत्राचार से बीए प्रथम वर्ष की पढ़ाई कर रही है। उसकी उम्र अब 18 साल 2 महीने है। युवती का कहना है कि साल 2018 में एक शादी समारोह में गुड़गांव के सरहौल गांव निवासी अभिषेक से उसकी भेंट  हुई।और जल्द ही दोनों की मुलाकात दोस्ती में बदल गई और दोनों मोबाइल पर बातचीत करने लगे। युवती ने  आरोप लगाया है कि युवक ने कुछ समय पहले एमजी रोड स्थित एक होटल में बहाने से बुलाकर रेप किया। युवती ने जब उसकी बात के खिलाफ विरोध जताया तो उसने कहा कि जल्द ही शादी कर लेंगे। लेकिन इसके बाद से कई बार रेप किया और अब शादी से इंकार कर दिया। बुधवार शाम को युवती ने पुलिस शिकायत को दी । जिस पर एफआईआर दर्ज की गई है कार्रवाई कर जल्द ही आरोपित को पकड़