Skip to main content

किराए के पैसे नहीं थे : वड़ा-पाव भी लगता था महंगा - मनोज बाजपेयी आपबीती

सुशांत सिंह राजपूत की मौत के बाद बॉलीवुड के सितारे डिप्रेशन को लेकर खुलकर अपनी बात रख रहे हैं। हाल ही में मनोज बाजपेयी ने अपने स्ट्रगल के दौर को याद करते हुए इस बात का खुलासा किया है कि एक दौर ऐसा था जब उनके मन में भी सुसाइड के ख्याल आते थे।

मनोज ने कहा, ‘मैं किसान का बेटा हूं, बिहार के गांव में अपने पांच भाई-बहनों के साथ पला-बढ़ा। हम साधारण जिंदगी जीते थे लेकिन जब भी शहर जाते तो थिएटर जरूर जाते थे। मैं अमिताभ बच्चन का फैन था और उनकी तरह बनना चाहता था। 9 साल की उम्र में ही मैं जानता था कि मुझे एक्टिंग करनी है। 17 साल का हुआ तो दिल्ली यूनिवर्सिटी में दाखिला लिया। मैंने थिएटर करना शुरू किया लेकिन परिवार को इसके बारे में कोई आइडिया नहीं था। मैंने पिता जी को एक लैटर लिखा। वो गुस्सा नहीं हुए और मुझे 200 रु. भेजे।



मनोज ने आगे कहा, 'मैं आउटसाइडर था और नए माहौल में एडजस्ट करने की कोशिश कर रहा था। मैंने इंग्लिश सीखी। फिर मैंने एनएसडी में अप्लाई किया लेकिन तीन बार रिजेक्ट हुआ। मैं सुसाइड करने के करीब था तो मेरे दोस्त मेरे पास ही सोते थे और मुझे अकेला नहीं छोड़ते थे। उसी साल मैं एक चाय की दुकान पर खड़ा था तो तिग्मांशु धूलिया मुझे ढूंढते हुए अपनी खटारा स्कूटर पर आए। शेखर कपूर मुझे बैंडिट क्वीन में कास्ट करना चाहते थे। तब मुझे लगा कि मैं मुंबई जाने के लिए तैयार हूं।'



मनोज ने आगे बताया, ‘शुरुआत में सब बहुत कठिन था। पांच दोस्तों के साथ हमने चॉल किराए पर ली और काम ढूंढने लगे लेकिन कोई रोल नहीं मिला। एक बार एक असिस्टेंट डायरेक्टर ने मेरी फोटो फाड़ दी और एक ही दिन में 3 प्रोजेक्ट मेरे हाथ से निकल गए। यहां तक कि मुझे अपने पहले शॉट के बाद गेट आउट तक कहा गया। मेरे पास किराए के पैसे नहीं हुआ करते थे और खाने के लिए वड़ा-पाव भी महंगा लगता था।’

चार साल तक किया स्ट्रगल: मनोज आगे बोले, ‘मेरा चेहरा हीरो के लिए फिट नहीं होता था तो लोगों को लगता था कि मैं कभी बड़े परदे पर जगह नहीं बना पाऊंगा। चार साल स्ट्रगल करने के बाद मुझे महेश भट्ट की टीवी सीरीज में रोल मिला। एक एपिसोड के लिए मुझे 1500 रु. मिलते थे। इसके बाद मेरा काम नोटिस किया गया और मुझे अपनी पहली बॉलीवुड फिल्म मिली और इसके बाद सत्या से मुझे बड़ा ब्रेक मिला। फिर अवॉर्ड मिले। मैंने अपना पहला घर खरीदा और जानता था कि मैं यहां जम जाऊंगा। 67 फिल्मों के बाद मैं आज यहां हूं।’

Comments

Popular posts from this blog

बुरी खबर - पाकिस्‍तान के स्‍टार खिलाड़ी अफरीदी की गोली मारकर हत्‍या

  खेल प्रेमियो के लिए एक बहुत ही बुरी खबर है। पाकिस्‍तान में दो पक्षों की झगडे में पाकिस्‍तान के स्‍टार खिलाड़ी कर हत्या कर दी। यह घटना पाकिस्‍तान के खैबर जिले के जमरूद में घटित हुई। पाकिस्‍तान नेशनल फुटबॉल टीम के खिलाड़ी जुनैद अफरीदी की मैदान पर फुटबॉल मैच के दौरान ही गोली मारकर हत्‍या कर दी। जानकारी के मुताबिक दो समूह के बीच भूमि विवाद के कारण गोलीबारी हुई, जिसमें जुनैद को गोली लग गई और उन्‍होंने दुनिया को अलविदा कह दिया। इस विवाद में जुनैद के अलावा भी एक व्‍यक्ति को गंभीर चोंटें भी आई है। इस घटना से फैंस में रोष हैं।

गुरुग्राम : कान में ईयरफोन लगा सैर कर रहा था युवक - ट्रेन की चपेट में आने से मौत

  धनवापुर फाटक  कि  रेलवे लाइन  के आस -पास शुक्रवार सुबह एक  हादसे में ट्रेन की चपेट में आकर एक युवक की मौत हो गई। युवक ने कान में ईयरफोन लगाए हुए गाने सुनते हुए पटरी के साथ-साथ चल  रहा था। मालगाड़ी के ड्राइवर ने काफी देर तक हॉर्न दिया, लेकिन गाने के चलते वह सुन नहीं सका और ट्रेन की चपेट में आ गया। जीआरपी थाना पुलिस ने बताया कि शुक्रवार सुबह करीब 7 बजे यह हादसा हुआ। लक्ष्मण विहार कॉलोनी निवासी 21 साल का अवनीश धनवापुर फाटक के पास सैर करने गया। वह ट्रेन की पटियों के साथ-साथ सैर कर रहा था। कान में ईयरफोन लगाकर वह तेज आवाज में गाने भी सुन रहा था। तभी दिल्ली की ओर से मालगाड़ी आई। लोको पायलट ने युवक को देखकर हॉर्न भी बजाया लेकिन ईयरफोन व गाने की तेज आवाज के चलते युवक सुन नहीं सका और मालगाड़ी की चपेट में आ गया। इस हादसे की सारी सूचना कंट्रोल रूम  में दी गई तो जीआरपी थाना पुलिस मौके पर पहुंची। मृतक छात्र के परिजन  व पिता शैलेंद्र भी यहां आए। पिता ने शक जताया कि किसी ने बेटे को ट्रेन की ओर धक्का दिया। जीआरपी थाना पुलिस ने मेडिकल बोर्ड से मृतक के शव का पोस्टमार्टम कराया। जिसमें युवक को धक्का देन

शादी का झांसा देकर दिल्ली की छात्रा से गुड़गांव के होटल में दुष्कर्म

  दिल्ली की 18 साल की छात्रा से गुड़गांव के होटल में दुष्कर्म का नया  मामला सामने आया है। छात्रा का कहना है की  आरोपित ने उसे शादी का झूठा झांसा देकर चुप करा दिया और लगभग 2 साल तक उसके साथ दुष्कर्म करता रहा। और अब उससे शादी करने  से मना कर रहा   है। डीएलएफ सेक्टर-29 थाना एसएचओ इंस्पेक्टर जगबीर ने बताया कि युवती ने एफआईआर दर्ज करवाई । पुलिस के कहना है कि , शिकायत देने वाली छात्रा पत्राचार से बीए प्रथम वर्ष की पढ़ाई कर रही है। उसकी उम्र अब 18 साल 2 महीने है। युवती का कहना है कि साल 2018 में एक शादी समारोह में गुड़गांव के सरहौल गांव निवासी अभिषेक से उसकी भेंट  हुई।और जल्द ही दोनों की मुलाकात दोस्ती में बदल गई और दोनों मोबाइल पर बातचीत करने लगे। युवती ने  आरोप लगाया है कि युवक ने कुछ समय पहले एमजी रोड स्थित एक होटल में बहाने से बुलाकर रेप किया। युवती ने जब उसकी बात के खिलाफ विरोध जताया तो उसने कहा कि जल्द ही शादी कर लेंगे। लेकिन इसके बाद से कई बार रेप किया और अब शादी से इंकार कर दिया। बुधवार शाम को युवती ने पुलिस शिकायत को दी । जिस पर एफआईआर दर्ज की गई है कार्रवाई कर जल्द ही आरोपित को पकड़